अलग हर सिम्त से दिखता है मन्ज़र,
नज़रिया है ग़लत क्या और सही क्या.

गुरुवार, 2 दिसंबर 2010

तुमको और मुझको.

इंसानियत के नाते,अपनी ख़ुदी से प्यार,
तुमको भी बेशुमार है,मुझको भी बेशुमार.

चोर और लुटेरे में एक को चुन लें,
तुमको भी इख़्तियार है, मुझको भी इख़्तियार.

राज करने वाले,आला दिमाग़ पर,
तुमको भी ऐतबार है, मुझको भी ऐतबार.

हम पे चोट कुछ नहीं,मैं पे एक वार,
तुमको भी नागवार है,मुझको भी नागवार.

हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.

35 टिप्‍पणियां:

  1. 'chor aur lutere me ek ko chun le
    tumko bhi ikhtiyar hai mujhko bhi ikhtiyar'
    umda sher...
    achchhi gazal..

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर और उत्तम भाव लिए हुए.... खूबसूरत रचना......
    संजय कुमार

    उत्तर देंहटाएं
  3. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.
    इन पंक्तियों ने दिल छू लिया... बहुत सुंदर ....रचना....

    उत्तर देंहटाएं
  4. मतला बहुत अच्छा है...सभी शेर अच्छे हैं...

    http://veenakesur.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  5. चोर और लुटेरे में एक को चुन लें,
    तुमको भी इख़्तियार है, मुझको भी इख़्तियार.

    Aj daur me steek baithti hain panktiyan....

    उत्तर देंहटाएं
  6. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार

    देखिये वो मसीहा कब आता है जी.

    उत्तर देंहटाएं
  7. kunwar sahab masihaa hamarey hee bheetar hai.bas jaaganey kee baat hai.blog par aane kaa bahut shukriyaa.baat johoongaa.

    उत्तर देंहटाएं
  8. इंसानियत के नाते,अपनी ख़ुदी से प्यार,
    तुमको भी बेशुमार है,मुझको भी बेशुमार.

    हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.

    hmmm..areee..aap to bahut pyara likhti hain...ye sher khaas pasnd aaye....

    sach akhun..to aapke ek us comment ne..jo aapne charchmanch pe diyaa...us ne mujhe itni khushi dii..ke bas...byaan nhi kr skti...uske liye tah e dil se shurkiryaa..hmesha khush rahiye
    take care

    उत्तर देंहटाएं
  9. हम पे चोट कुछ नहीं,मैं पे एक वार,
    तुमको भी नागवार है,मुझको भी नागवार.

    बहुत गहरी बात कर दी है ....खूबसूरत गज़ल

    उत्तर देंहटाएं
  10. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.
    ... bahut sundar ... saarthak abhivyakti ... shaandaar gajal !!!

    उत्तर देंहटाएं
  11. खूब...
    भावनाओं को लिखो तो ऐसे ही लिखो...

    उत्तर देंहटाएं
  12. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.
    इंतज़ार की अवधि लम्बी ही सही
    पर है तो ........ बहुत ही अच्छी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  13. प्रिय बंधुवर हर्षवर्द्धन वर्मा जी
    नमस्कार !
    तुमको और मुझको कमाल की रचना है … वाऽऽऽह !

    हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार


    सच, कितने दिवास्वप्न हम पाले बैठे हैं …
    बहरहाल , इस रचना सहित आपकी पिछली पोस्ट्स की भी कई रचनाओं के लिए आभार ! साधुवाद !

    ~*~नव वर्ष 2011 के लिए हार्दिक मंगलकामनाएं !~*~
    शुभकामनाओं सहित
    - राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  14. rashmee jee aamad kaa shukriyaa.aap aate rahenge tu aur likhane sochane kee preranaa milatee rahegee.

    उत्तर देंहटाएं
  15. rajendra jee is adnaa rachnaakaar ke blog par aakar,rachnaein padhkar dher saaree shubhkaamanaaein dene kaa shukriyaa.
    meree shubhkaamanaaein sadaa aapake saath hain.

    उत्तर देंहटाएं
  16. "मेर्री क्रिसमस" की बहुत बहुत शुभकामनाये !

    मेरी नई पोस्ट "जानिए पासपोर्ट बनवाने के लिए हर जरूरी बात" पर आपका स्वागत है

    उत्तर देंहटाएं
  17. मुझे आपका हर शेर पसंद आया। दिल से कह रहा हूँ। इन्हें याद कर दूसरों को सुनाउँगा। आपके ब्लॉग पर आकर और आपकी रचना को पढ़कर बहुत अच्छा लगा।

    उत्तर देंहटाएं
  18. आपको क्रिसमस और नये वर्ष की ढेरों शुभकामनाएँ और मंगलकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  19. priya rajpurohit ji.aapke blog par passport sambandhee jaankaree mili.dhanyawaad.

    is post ke vishay mein aapkee tippanee milti to aur achchaa lagataa.

    उत्तर देंहटाएं
  20. priya chauhaan saahab.is se behtar comment aaj tak mujhe dekhane ko nahee milaa.dhanywaad.

    aapko bhee nav-varsh aur christmas kee shubhkamanaein.

    उत्तर देंहटाएं
  21. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.
    xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx
    बहुत सुंदर ...आशा का भाव अभी जिन्दा है ...शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  22. चिट्ठाजगत के बन्द हो जाने पर तो विशेष रुप से चलते रहने के लिये एक-दूसरे के सहारे का-
    तुमको भी इन्तजार है, मुझको भी इन्तजार...
    कृपया 'जिन्दगी के रंग' को भी फालो करें । प्रतिक्षा सहित धन्यवाद...
    http://jindagikerang.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  23. हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार

    ghazal men chpe vyangy bhaw ne jhakjhor kar rakh diya
    -Gyanchand marmagya

    उत्तर देंहटाएं
  24. केवलराम जी,सुशील बाकलीवाल साहब और मर्मज्ञ जी का बहुत आदाब और शुक्रिया.

    उत्तर देंहटाएं
  25. हर्ष जी

    हालात को सुधारने आएगा मसीहा,
    तुमको भी इन्तज़ार है,मुझको भी इन्तज़ार.

    बेहतरीन ...बधाई

    उत्तर देंहटाएं